August 27, 2018

RK studio is selling | Kapoor family decided to sell

RK studio is selling
RK Studio Mumbai 

RK स्टूडियो बिक रहा है | कपूर परिवार बेचने का फैसला किया 



हिंदी मूवी-प्रेमी के पास चौंकाने वाली खबर है। कपूर परिवार ने प्रसिद्ध आरके स्टूडियो बेचने का फैसला किया है। 70 साल पहले बनाया गया इस ऐतिहासिक स्टूडियो में पिछले साल भारी आग लग गई थी, और इसका एक बड़ा हिस्सा नष्ट हो गया था।
कपूर परिवार का मानना ​​है कि नवीनीकरण करना आर्थिक रूप से बुद्धिमान नहीं है। शोमेन राज कपूर ने 1 9 48 में मुंबई के उपनगरीय क्षेत्र चेम्बूर में इसकी स्थापना की। इस स्टूडियो में राज कप्पूर की कई फिल्मों का निर्माण किया गया था।

परिवार की तरफ से ऋषि कपूर ने कहा, "कपूर परिवार इस फैसले के बारे में काफी भावनात्मक है।" उन्होंने कहा कि हम लोगों से बहुत जुड़े हुए हैं लेकिन अगली पीढ़ी को कोई जानकारी नहीं है। ऋषि ने कहा, 'इस निर्णय को छाती पर पत्थर रखकर लिया जा रहा है। 

पिछले साल 16 सितंबर को, 'सुपर डांसर' का एक सेट स्टूडियो में स्थापित किया गया था जिसमें आग लग गयी थी उसमे स्टूडियो का पिछला मंजिल जल गई थी। दुर्घटना में कोई जनहानि  नहीं हुआ। ऋषि कपूर ने नवीनतम तकनीक के साथ स्टूडियो को फिर से बनाने की इच्छा व्यक्त की थी, लेकिन उनके बड़े भाई रणधीर कपूर ने कहा कि यह व्यावहारिक नहीं था।

रणधीर कपूर ने कहा, 'हां, हमने आरके स्टूडियो बेचने का फैसला किया है। यह बिक्री के लिए उपलब्ध है। स्टूडियो में आग के बाद, इसे फिर से बनाना व्यावहारिक नहीं था। '

आरके बैनर के तहत बनाई गई फिल्मों में 'आग', 'बरासत', 'अवारा', 'श्री 420', 'जिस देश में गंगा बहती है', 'मेरा नाम जोकर', 'बॉबी', सत्यम शिवम् सुंदरम, ' राम तेरी गंगा मैली  इत्यादि 'आरके बैनर' के तहत आखिरी फिल्म 'आ अब लौट चले' थी, जिसे ऋषि कपूर द्वारा निर्देशित किया गया था। 1 9 88 में राज कप्पूर की मौत के बाद, उनके सबसे बड़े बेटे रणधीर ने स्टूडियो को संभाला। बाद में राजीव कपूर ने सबसे कम उम्र के बेटे राजीव कपूर को निर्देशित किया, 'प्रेम ग्रंथ'